RNI NO. CHHHIN /2021 /85302
RNI NO. CHHHIN /2021 /85302

उत्सव का हर उत्सवों में संचालन लगा देता है उत्सवों में चार चांद।

अपने प्रखर वक्तव्य कला और संचालन से छाए उत्सव/क्षेत्र, राज्य और समाज को मिला उभरता एंकर, बहु खुशबू की वाणी भी बिखेर देती है विभिन्न अवसरों पर प्यार की खुशबू।

अजीत यादव

बालोद बस्तर के माटी – जिले के गुंडरदेही नगर का एक उभरता कलाकार जिसने कम उम्र में ही सैकड़ों मुकाम प्राप्त कर क्षेत्र, परिवार, समाज को गौरवान्वित किया है। अपने संचालन के माध्यम से नागपुर, बिलासपुर, रायपुर, दुर्ग-भिलाई, बालोद सहिंत अनेक बड़े शहरों में जाकर विभिन्न आयोजनों का संचालन कर अपनी छाप छोड़ी हैं। एंकर उत्सव जैन शादी, महिला संगीत, वेडिंग, बीरा मायरा, हल्दी, बर्थडे, एनिवर्सरी, कॉरपोरेट पार्टी, सामाजिक, राजनैतिक एवं अन्य सभी कार्यक्रमों मेँ चहकते हुए मंच संचालन करने में सक्षम है।

उनकी प्रतिभा को सोशल मीडिया जैसे फेसबुक यूट्यूब इंस्टाग्राम जैसे प्लेटफार्म पर (एंकर उत्सव जैन) के नाम से खूब सराहा जा रहा है, जब मीडिया ने उनका इंटरव्यू लिया तो उन्होंने अपने पिता थानमल जैन (कवि ) और मामा हरख जैन(पप्पू) को प्रोत्साहन का श्रेय दिया। उनका विवाह 5 साल पूर्व खुशबूजी संग हुआ और उनकी अर्धांगिनी को भी मंच संचालन में महारत हासिल हैं। उत्सव संघ खुशबू के संयुक्त संचालन की यह जोड़ी ऐसी की विभिन्न उत्सवों में खुशबू भी अपने मीठे शब्दों से प्यार की खुशबू बिखेरने में उत्सव से पीछे नहीं और यही कारण है की दोनो की जोड़ी क्षेत्र में धूम मचा रही है।

उत्सव ने बी. कॉम, एल एल बी तक शिक्षा प्राप्त की है। स्कूली शिक्षा कृष्णा पब्लिक स्कूल नेहरू नगर भिलाई से और कॉलेज की शिक्षा शंकराचार्य भिलाई से पूर्ण की है। उनका जन्म 11 जून 1994 को हुआ है। एंकर की यह जोड़ी विभिन्न अवसरों पर अपनी एक ऐसी छाप छोड़ती जा रही है, की इनकी मांग बढ़ने लगी है। कई बार तो ऐसा भी होने लगा है की एक दिन एक से ज्यादा आयोजन होने से इन्हे यह निर्णय लेने में भी परेशानी होती है, की ये जाए तो जाए कहां किंतु जिस और प्रेम का वजन ज्यादा होता है उस और खींचे चले जाते है।

Facebook
Twitter
WhatsApp
Reddit
Telegram

Leave a Comment

Weather Forecast

DELHI WEATHER

पंचांग

error: Content is protected !!